Cbse: 23 Thousand Students Of Dehradun Region Will Give Examination From Wednesday To Improve Marks – सीबीएसई: अंक सुधार के लिए देहरादून रीजन के 23 हजार छात्र-छात्राएं बुधवार से देंगे परीक्षा

खबरे सुनें

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Published by: अलका त्यागी
Updated Tue, 24 Aug 2021 06:05 PM IST

सार

25 अगस्त से 15 सितंबर तक आयोजित होने वाली 10 विषयों की परीक्षाओं के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से टाइमटेबल जारी कर दिया गया है।

परीक्षा
– फोटो : अमर उजाला फाइल फोटो

ख़बर सुनें

कोरोनाकाल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए भले ही सरकार ने बोर्ड परीक्षा रद्द कर थीं, लेकिन बिना परीक्षा के आए नंबरों से असंतुष्ट देहरादून रीजन के 23 हजार छात्र-छात्राएं बुधवार से ऑफलाइन लिखित परीक्षा देंगे। बीते डेढ़ साल में यह पहली बार होगा कि इतनी बड़ी संख्या में स्कूली छात्र लिखित परीक्षा में शामिल होंगे। 

25 अगस्त से 15 सितंबर तक आयोजित होने वाली 10 विषयों की परीक्षाओं के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से टाइमटेबल जारी कर दिया गया है। साथ ही परीक्षा केंद्रों में कोरोना गाइडलाइन का भी सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। सीबीएसई के दून रीजन में उत्तराखंड के सभी 13 जिले और यूपी के आठ जिलों के स्कूल आते हैं।

इन स्कूलों में से 10वीं के 10 हजार और 12वीं के 13 हजार छात्रों ने लिखित परीक्षा का विकल्प चुना है। सीबीएसई की ओर से जारी लिखित परीक्षा के टाइमटेबल में निर्देश दिए गए हैं कि परीक्षा केंद्र की एक कक्षा में 12 छात्रों के बैठने की व्यवस्था बनाई जाए। सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन करने के साथ परीक्षा केंद्र में मास्क लगाना अनिवार्य, सैनिटाइजर और पानी की पारदर्शी बोतल साथ लानी होगी। 

इससे पहले छात्रों को परीक्षा केंद्र के मुख्य गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद सैनिटाइज किया जाएगा। छात्रों के हाथ मिलाने, गले मिलने पर भी प्रतिबंध रहेगा। नियमित छात्रों को एडमिट कार्ड के साथ स्कूल पहचानपत्र भी लाना होगा। जबकि, प्राइवेट छात्रों को एडमिट कार्ड के साथ सरकार की ओर से जारी पहचानपत्र दिखाना होगा। 

लिखित परीक्षा में आने वाले अंक होंगे फाइनल
बोर्ड ने पहले ही साफ किया है कि लिखित परीक्षा में आने वाले अंकों के आधार पर ही फाइनल रिजल्ट तैयार किया जाएगा। इसके बाद छात्रों को किसी प्रकार की सुविधा नहीं दी जाएगी।

25 अगस्त से शुरू होने वाली लिखित परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों को निर्देश दिए गए हैं कि कोरोना गाइडलाइन के तहत ही परीक्षाओं का आयोजन कराया जाए। बोर्ड लिखित परीक्षा कराने के लिए पूरी तरह से तैयार है। लिखित परीक्षा में आने वाले अंकों के आधार पर ही फाइनल रिजल्ट तैयार किया जाएगा। 
– रणबीर सिंह, क्षेत्रीय अधिकारी, सीबीएसई

विस्तार

कोरोनाकाल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए भले ही सरकार ने बोर्ड परीक्षा रद्द कर थीं, लेकिन बिना परीक्षा के आए नंबरों से असंतुष्ट देहरादून रीजन के 23 हजार छात्र-छात्राएं बुधवार से ऑफलाइन लिखित परीक्षा देंगे। बीते डेढ़ साल में यह पहली बार होगा कि इतनी बड़ी संख्या में स्कूली छात्र लिखित परीक्षा में शामिल होंगे। 

25 अगस्त से 15 सितंबर तक आयोजित होने वाली 10 विषयों की परीक्षाओं के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से टाइमटेबल जारी कर दिया गया है। साथ ही परीक्षा केंद्रों में कोरोना गाइडलाइन का भी सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। सीबीएसई के दून रीजन में उत्तराखंड के सभी 13 जिले और यूपी के आठ जिलों के स्कूल आते हैं।

इन स्कूलों में से 10वीं के 10 हजार और 12वीं के 13 हजार छात्रों ने लिखित परीक्षा का विकल्प चुना है। सीबीएसई की ओर से जारी लिखित परीक्षा के टाइमटेबल में निर्देश दिए गए हैं कि परीक्षा केंद्र की एक कक्षा में 12 छात्रों के बैठने की व्यवस्था बनाई जाए। सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन करने के साथ परीक्षा केंद्र में मास्क लगाना अनिवार्य, सैनिटाइजर और पानी की पारदर्शी बोतल साथ लानी होगी। 

इससे पहले छात्रों को परीक्षा केंद्र के मुख्य गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद सैनिटाइज किया जाएगा। छात्रों के हाथ मिलाने, गले मिलने पर भी प्रतिबंध रहेगा। नियमित छात्रों को एडमिट कार्ड के साथ स्कूल पहचानपत्र भी लाना होगा। जबकि, प्राइवेट छात्रों को एडमिट कार्ड के साथ सरकार की ओर से जारी पहचानपत्र दिखाना होगा। 

लिखित परीक्षा में आने वाले अंक होंगे फाइनल

बोर्ड ने पहले ही साफ किया है कि लिखित परीक्षा में आने वाले अंकों के आधार पर ही फाइनल रिजल्ट तैयार किया जाएगा। इसके बाद छात्रों को किसी प्रकार की सुविधा नहीं दी जाएगी।

25 अगस्त से शुरू होने वाली लिखित परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों को निर्देश दिए गए हैं कि कोरोना गाइडलाइन के तहत ही परीक्षाओं का आयोजन कराया जाए। बोर्ड लिखित परीक्षा कराने के लिए पूरी तरह से तैयार है। लिखित परीक्षा में आने वाले अंकों के आधार पर ही फाइनल रिजल्ट तैयार किया जाएगा। 

– रणबीर सिंह, क्षेत्रीय अधिकारी, सीबीएसई

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *